नई दिल्ली : 9 अगस्त क्रान्ति दिवस पर पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणब मुख़र्जी द्वारा महान स्वतंत्रता सेनानी, पूर्व केंद्रीय मंत्री एवं सांसद (1952-1977) श्री बिश्वनाथ राय पर संकलित “राष्ट्र निर्माण में बिश्वनाथ राय, महान स्वतंत्रता सेनानी का संसद में योगदान” पुस्तक का विमोचन दिल्ली में कन्सिसटूशन क्लब  किया गया.स्व० श्री बिश्वनाथ राय कृषक एवं कृषि मजदूरों के हित के ध्वजवाहक के रूप में संसद में सर्वाधिक मुखर रहे। उनके द्रश्टक प्रश्नोत्तरों ने तत्कालीन कृषि एवं कृषक लाभप्रद पंचवर्षीय योजनाओं के निर्माण एवं अनुपालन में महत्वपूर्ण योगदान दिया।



इस समारोह में विशिष्ट अतिथि श्री मनोज सिन्हा (मंत्री), श्री भूपेन्द्र सिंह हूडा (विधायक एवं पूर्व मुख्यमंत्री), श्री रविन्द्र कुशवाहा (सांसद), श्री भगत सिंह कोशियारी (सांसद),  कर्नल सोनाराम चौधरी (सांसद), श्री प्रदीप टम्टा (सांसद), महाबल मिश्रा (पूर्व सांसद), कमलेश शुक्ल विधायक उपस्थित थे। कार्यक्रम में भारतीय सेना के अधिकारी, पूर्व सैनिक, किसान, किसान संगठनों के प्रमुख, स्वतंत्रता सेनानी के उत्तराधिकारी, वैज्ञानिक एवं विभिन्न क्षेत्रों के प्रबुद्ध जन उपस्थित थे। श्री राय के सुपुत्र कर्नल प्रमोद शर्मा ने मुख्य अतिथि का सम्मान किया एवं पुस्तक की विषय वस्तु का संक्षिप्त विवरण दिया।
इस मौके पर पूर्व राष्ट्रपति श्री प्रणब मुख़र्जी ने कहा कि बिश्वनाथ राय जी ने सिर्फ स्वंतत्रा सग्राम में ही भाग नहीं लिया बल्कि स्वंतत्रा के बाद देश के निर्माण में भी अभूतपूर्व योगदान दिया, मेरा सौभाग्य है कि मुझे उनके साथ काम करने का अवसर मिला।
विशिष्ट अतिथि श्री मनोज सिन्हा ने कहा कि कर्नल प्रमोद शर्मा द्वारा लिखी गयी यह किताब उनके पिता को उनके द्वारा दी गयी सच्ची श्रदांजलि है।


Axact

Akshaya Gaurav

hindi sahitya, hindi literature, hindi stories, hindi poems, hindi poetry, motivational stories, inspirational stories, हिन्दी साहित्य, कहानियाँ, हिन्दी कविताएँ, काव्य, प्रेरक कहानियाँ, प्रेरक कहानियाँ, व्यंग्य.

loading...

POST A COMMENT :