• विश्वविद्यालय हिन्दी साहित्य सेवा संस्थान की ओर से 16वें साहित्य मेला का आयोजन
  • लखनऊ के नरेन्द्र भूषण को काव्य सम्राट की उपाधि से अलंकृत किया गया


इलाहाबाद, विश्वविद्यालय हिन्दी साहित्य सेवा संस्थान की ओर से हिन्दुस्तानी एकेडेमी में 16वां साहित्य मेला धूमधाम से मनाया गया। इस अवसर पर दो सत्र में हुए आयोजन में काव्य सम्राट प्रतियोगिता, सम्मान समारोह एवं पुस्तक विमोचन का कार्यक्रम सम्पन्न हुआ। कार्यक्रम का शुभारंभ काव्य सम्राट प्रतियोगिता से हुआ, जिसमें कई प्रांतो के रचनाकारों ने काव्य पाठ किया। अंतिम चरण की प्रतियोगिता में लखनऊ के नरेन्द्र भूषण को काव्य सम्राट की उपाधि से अलंकृत किया गया तथा 11000/ रुपये नगद का ईनाम भी दिया गया। अंतिम चरण के निर्णायंक मंडल में डॉ. शभु नाथ त्रिपाठी ‘अंशुल’, गंगाशरण प्यासा, श्री मिथिलेश प्रसाद द्विवेदी एवं डॉ. माधुरी त्रिपाठी रहीं।
छूसरे सत्र में मुख्य अतिथि शिक्षक विधायक, डॉ0 यज्ञदत्त शर्मा रहे तथा अध्यक्षता संस्थान के अध्यक्ष डॉ0 शहाबुद्दीन नियाज मुहम्मद शेख ने 15 राज्यों के साहित्यकारो/पत्रकारो/समाजसेवियों को स्मृति चिन्ह, अंगवस्त्रम व प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
इस अवसर पर अतिथियों ने संस्थान द्वारा प्रकाशित देश-विदेश के हिन्दी सेवी संस्थाओं की परिचायिका ‘हिन्दी परिचायिका’ का तथा युवा कवि श्री राजेश कुमार तिवारी के काव्य संग्रह ‘गगन के राज’ का विमोचन किया।
अपने उद्बोधन में डॉ0 यज्ञदत्त शर्मा ने कहा कि साहित्य सामाजिक चेतना विकसित करता है। इसका सम्बंध सभी विधाओं से है। हिन्दी की लोकप्रियता विश्वस्तर पर पर बढ़ रही है। रूसी भाषा में जब रामचरित मानस का अनुवाद हुआ तो 3 दिन में 7 लाख प्रतियां बिक गई। साहित्य समाज को नई राह दिखाता है और संकट में उबारता है। डॉ. शहाबुद्दीन नियाज मुहम्मद शेख ने कहा ‘अंग्रेजी के बढ़ते प्रभाव से हिन्दी कमजोर हो रही है। अपनी भाषा को बचाने और बढ़ाने का संकल्प लेना चाहिए। युवा पीढ़ी को हिन्दी के बढ़ते प्रभाव और उसके महत्व को बताना चाहिए। यदि मातृृभाषा मजबूत होगी तो समाज, राष्ट्र भी मजबूत होगा। इस अवसर पर पत्र-पत्रिका एवं पुस्तक प्रर्दशनी भी लगाई गई।
सम्मानित होने वालों में विश्व हिन्दी साहित्य सेवा संस्थान की ओर से डॉ0 बृृजेश कान्त द्विवेदी, इलाहाबाद को कृृषकश्री, इंजी0 अशोक दुबे, इलाहाबाद को अभियांत्रिकीश्री, डॉ0 यज्ञदत्त शर्मा, इलाहाबाद को समाज गौरव, श्री गंगा शरण ‘प्यासा’, मुरैना, म.प्र. के विशिष्ट हिन्दी सेवी सम्मान, डॉ0 सिकन्दर लाल, प्रतापगढ़, उ.प्र. के साहित्यश्री सम्मान, सुश्री सैय्यद आयेशा अनिसुद््दीन, अहमदनगर, महाराष्ट्र के राष्ट्रीय युवा प्रतिभा सम्मान, डॉ. पी.आर. वासुदेव, चेन्नै, तमिलनाडु के लघु प्रतियोगिता में सर्वोत्कृष्ट स्थान प्राप्त करने पर लघु कथा सम्राट सम्मान एवं नगद 2500रुपये थे।
श्री पवहारी शरण द्विवेदी स्मृृति न्यास की ओर से  श्री सत्यव्रत मिश्र ‘गौरव’, इलाहाबाद को समदर्शी पवहारी शरण द्विवेदी समाज सेवी सम्मान, डॉ0 मीतू सिन्हा, धनवाद, झारखंड को कलाश्री सम्मान, डॉ0 सीमा वर्मा, लखनऊ, उ.प्र.
को महादेवी वर्मा सम्मान, सुश्री वन्दना श्रीवास्तव ‘वान्या’, लखनऊ, उ.प्र. को डॉ. किशोरी लाल सम्मान, डॉ0 माधुरी त्रिपाठी, रायगढ़, छ.ग. को समदर्शी पवहारी शरण द्विवेदी सम्मान, अनुपमा श्रीवास्तव ‘अनुश्री’, भोपाल, म.प्र. को राष्ट्रीय युवा प्रतिभा सम्मान, कुु0 रुबि कुशवाहा, इलाहाबाद, उ.प्र. को निर्भया सम्मान,  श्री तरुण कुमार सिंह, लखनऊ, उ.प्र. को डॉ. किशोरी लाल सम्मान, कुु0 निधि त्रिपाठी, कु0 सन्नो कुशवाहा, दीपाली कुशवाहा, कु0 संस्कृति द्विवेदी, कु0 पूजा गौतम, शिवानी पाल, अवन्तिका कुशवाहा, इलाहाबाद, उ0प्र0, मीडिया फोरम ऑफ इण्डिया की ओर से श्री राकेश कुमार मिश्रा, श्री राजेश कुमार गोस्वामी, प्रभाष सिंह चन्देल, प्रमोद कुमार गुप्ता को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया।
श्री पवहारी शरण द्विवेदी स्मृति न्यास, मीडिया फोरम ऑफ इण्डिया न्यास एवं द हंगामा यूट्यूब टीवी चैनल के सहयोग से आयोजित इस कार्यक्रम में अतिथियों का स्वागत कार्यक्रम प्रभारी एवं मीडिया फोरम के राष्ट्रीय अध्यक्ष श्री महेन्द्र कुमार अग्रवाल ने, स्वागत विदेश सचिव डॉ0 रेवा नन्दन द्विवेदी, इलाहाबाद से हिन्दी सांसद गरिमा श्रीवास्तव ने संस्थान की गतिविधियों पर प्रकाश डाला, संयोजन मिर्जापुर से हिंदी सांसद निगम प्रकाश कश्यप ने किया। आभार कार्यक्रम संयोजक डॉ0 गोकुलेश्वर कुमार द्विवेदी ने व्यक्त किया तथा संचालन संयुक्त सचिव ईश्वर शरण शुक्ल ने किया। इस अवसर पर डॉ0 जया शुक्ला, सत्यप्रकाश, स्वप्निल शर्मा, श्याम किशोर सिंह, डॉ0 प्रकाश बहादुर खरे, आलोक चतुर्वेदी, जी.एस.निगम, आशुतोष मिश्र, रामकृष्ण विनायक सहत्रबुद्धे, रश्मि राजगृहार, डॉ. रश्मि गंगवानी, संध्या वर्मा, कु0 संगीता सिन्हा, नीतू सिंह राय, डॉ0 विदूषी शर्मा, प्रभाषु कुमार, अभिषेक मिश्रा, सपना मिश्रा, मुरारी लाल प्रजापति, दीपक वर्मा, सुरेश कुमार, सदाशिव विश्वकर्मा, रीतिका यादव, श्याम किशोर सिंह आदि उपस्थित रहे।


Axact

Akshaya Gaurav

hindi sahitya, hindi literature, hindi stories, hindi poems, hindi poetry, motivational stories, inspirational stories, हिन्दी साहित्य, कहानियाँ, हिन्दी कविताएँ, काव्य, प्रेरक कहानियाँ, प्रेरक कहानियाँ, व्यंग्य.

loading...

POST A COMMENT :